राजू श्रीवास्तव का तीखा व्यंग, कहा- अखिलेश यादव स्वामी प्रसाद को भूटान का कॉउंसलर बनवा देंगे! : #RashtraNews

2

#राजू श्रीवास्तव का तीखा व्यंग, कहा- अखिलेश यादव स्वामी प्रसाद को भूटान का कॉउंसलर बनवा देंगे! : Rashtra News

गौरतलब है कि यूपी में 18वें विधानभा चुनाव की तारीखों का ऐलान हो चुका है और 403 विधानसभा सीटों पर 7 चरण में इलेक्शन होने हैं।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले सभी दलों के नेता इधर-उधर भागने में लगे हैं। प्रसिद्ध हास्य कलाकार और कैबिनेट का दर्जा प्राप्त भाजपा नेता राजू श्रीवास्तव ने भाजपा छोड़कर दूसरी पार्टियों में जाने वाले नेताओं पर व्यंग्य बाण चलाए हैं। दरअसल हाल ही में चुनाव से पहले भाजपा में मंत्री रहे स्वामी प्रसाद मौर्य सहित कई नेताओं ने भाजपा छोड़कर सपा में शमिल हो गए हैं।

इसी दलबदल को लेकर हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो पोस्ट किया। इंटरनेट मीडिया पर वायरल इस वीडियो में राजू श्रीवास्तव ने पार्टी छोड़कर गए नेताओं की स्थितियों के बारे में लोगों को बताया है। अपनी बात रखते हुए उन्होंने जहां एक ओर उदित राज और फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा पर निशाना साधा है, वहीं स्वामी प्रसाद मौर्य और दारा सिंह चौहान के अपने तरीके से मजे लिए है।

राजू श्रीवास्तव ने ली चुटकी: उत्तर प्रदेश में कैबिनेट दर्जा प्राप्त भाजपा नेता राजू श्रीवास्तव ने स्वामी प्रसाद मौर्य, और दारा चौहान पर तंज कसते हुए कहा कि बीजेपी में टिकट ना मिलने के कारण उदित राज में बीजेपी छोड़ कर चले गए, शत्रुघ्न सिन्हा भी बीजेपी छोड़ कर चले गए, आज ये लोग बड़े सफल हैं। ये दोनों लोग बहुत कामयाब। उदित राज तो अमेरिका के राष्ट्रपति हैं और शत्रुघ्न सिन्हा बेल्जियम के प्रधानमंत्री हैं। इस तरह अखिलेश यादव स्वामी प्रसाद मौर्य को भूटान का काउंसलर बनाने जा रहे हैं और दारा सिंह युगांडा के राष्ट्रपति…है न?

चुनाव का ऐलान: बता दें कि उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव का ऐलान हो चुका है। बीते 8 जनवरी को चुनाव आयोग ने 403 सीटों वाली 18वीं विधानसभा के लिए चरण दर चरण का ऐलान कर दिया है। चुनाव आयोग के मुताबिक उत्तर प्रदेश में चुनाव 10 फरवरी से 7 मार्च तक सात चरणों में कराये जायेंगे। 10 मार्च को चुनाव के नतीजे आएंगे। यूपी में सात चरणों के तहत 10 फरवरी, 14 फरवरी, 20 फरवरी, 23 फरवरी, 27 फरवरी, 3 मार्च और 7 मार्च को मतदान होगा।

2017 में प्रचंड बहुमत से जीत: साल 2017 में 17वीं विधानसभा में भाजपा प्रचंड बहुमत से जीतकर सत्ता में आयी थी। 2017 में हुए चुनाव के दौरान बीजेपी ने 312 सीटें जीतकर, तीन चौथाई बहुमत हासिल कर इतिहास रचा था। वहीं अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के गठबंधन में पार्टी ने महज 54 सीटें ही जीती थीं। जबकि मायावती की पार्टी बसपा 19 सीटों पर ही सिमट गयी थी। फिलहाल 2022 के चुनाव में भाजपा का सीधा मुकाबला सपा के साथ माना जा रहा है।

!function(f,b,e,v,n,t,s)
{if(f.fbq)return;n=f.fbq=function(){n.callMethod?
n.callMethod.apply(n,arguments):n.queue.push(arguments)};
if(!f._fbq)f._fbq=n;n.push=n;n.loaded=!0;n.version=’2.0′;
n.queue=[];t=b.createElement(e);t.async=!0;
t.src=v;s=b.getElementsByTagName(e)[0];
s.parentNode.insertBefore(t,s)}(window, document,’script’,
‘https://connect.facebook.net/en_US/fbevents.js’);
fbq(‘init’, ‘444470064056909’);
fbq(‘track’, ‘PageView’);

(News Source :Except add some keywords for the headline, this story has not been edited by Rashtra News staff and is published from a www.jansatta.com feed )
Latest Sports News | Latest Business News | Latest World News | Latest Bhutan News | Latest Nepal News | Latest Education News | Latest Technology News

LEAVE A REPLY